Friday, November 11, 2016

नोट !


सपनों के सौदागरोंने
क्या क्या बता बता कर
वोट ले लिये

ढाई सालों बाद भी
जब सपने तो पुरे होने से है
तो यह अब नोट वापस ले रहे है

- स्वाती 11 . 11. 2016 18.45 मुंबई


No comments: