Friday, April 29, 2016

उम्मीद

कहते है, 'वैसे तो हम सब अकेलेही होते है',
मगर अफसोस,
किसीका 'पूरा का पूरा अकेले होना',
उन्हे सिर्फ अकेलेपनके साथ निभाना पङता है ।

जो इतने खूशनसीब है कि
जिन्हे अकेलापन पाने के लिये
किसी -किसीसे कुछ देरका अवकाश लेना पङता है,
उम्मीद है वह पूरे के पूरे अकेले लोगोंकी
जिंदादिली की कामना करें ।

और याद रखीयेगा,
हर रोज इनकी खबर लेनेका,
और जब यह बुढ्ढे होकर गुजर जाये
तब जनाज़ा जरूर उठाइयेगा इनका

अगर इनमेंसे किसीने कभी किया हो ज़िक्र,
म्रृत्युपश्चात देहदान का
तो इनकी अंतिम इच्छा न टालना

इसके बावजूद के इन्सान मरने पर
उसके सङते हुए जिस्म के अलावा
उसके मन का कोई अस्तित्व नही बचता,
फिर भी इनका देहदान जरूर करवाना;

पूरे के पूरे अकेलेपन के दौरान क्या पता,
इन्होंने देहदान का यूं सोचा होगा
कि अपने मरने के बाद ही सही,
अलग-अलग इन्सानोंके साथ बटँकर ही सही,
अपने आँख, हृदय ,
या बाकी अवयवोंका अकेलापन
साथ-साथ में बदलही जाएगा  ।

- स्वाती,  April 29, 2016 22.34 Dombivali

Thursday, April 7, 2016

Hidden

Down and Deep
There is this thing,
Which never left
Where it was Pushed;

Companion of every moment
Background voice for each act
A feeling unsatiated
Left to ruin in the dark;

Yet it lays 
Underneath everything,
Providing a strong base
for the Veil within.


- Swati, April 07, 2016 22.28

Friday, April 1, 2016

Courage

During the course of life
When things aren't right,
As the world turns up side down,
and Yet, again indeed,

Even when you are left
Without a rational posibility,
of a desired outcome
You just don't give up!

Not beacuse of speculation,
Nor any Blind Hope,
But the attitude that changes -
Everything in 
"Down to Earth" You,

Makes you determined,
Come what may,
To stand up,
Work it out, and
Make it all right !

- Swati, April 01, 2016